Bewafa Shayari: टूटे हुए दिलों के लिए बेवफा शायरी

Bewafa shayari, Bewafai Shayari

Bewafa Shayari या फिर Bewafai Shayari नाम से अंदाजा लगा सकते हैं। ऐसी स्थिति तब होती है, जब किसी के प्यार में इंसान धोका खाता है। ऐसा बहुत से लोगों के साथ होता है। उनको उनका सच्चा प्यार नहीं मिलता और अपने आधे अधूरे प्यार के लिए जो दिल में टीस/दर्द रह जाता है। जो आप किसी के साथ बोल के नहीं शेयर कर सकते। प्यार में खायी हुई चोट पे हम आपके लिए बेवफा शायरी की पोस्ट लाये हैं इस पोस्ट को आप सन्देश बनाकर अपने Whtasapp,इंस्टाग्रम और फेसबुक पर डाल कर अपनी फीलिंग्स और अपने दर्द को पहुंचा सकते हैं।

बेवफा शायरी, बेवफाई शायरी, Bewafa Shayari,Sad bewafa shayari, Dard bhari bewafa Shayari, Bewafa shayari in hindi for Girlfriend.

Bewafa shayari, Bewafai Shayari


wafa pe Bewafai

जब आपको बिना गलती के सजा मिले,
तो उसे Bewafai कहा जाता है।


मोहब्बत में बेवफाई

मोहब्बत में ऐसा क्यों होता है,
बेवफाई में वो रोते हैं और वफ़ा में हम रोए हैं।

बेवफा शायरी

सब कुछ होते हुए भी इस दिल का दर्द नहीं जाता,
क्यूंकि किस्मत ने हमें Bewafai बना दिया।


बेवफाई, bewafayi shayri


Bewafa मोहब्बत बन जाती है

दुनिया वालों का भी अजीब दस्तूर है बेवफाई मेहबूब से मिलती है ,
और बेवफा मोहब्बत बन जाती है।

hindi shayari bewafa


वो Bewafai से खुशहाल

हम इश्क़ में वफ़ा करते करते बेहाल हो गए,
और वो बेवफाई करके भी खुशहाल हो गए।


Jisse Bewafai ki

जिससे हमने Bewafai पायी,
वो हमसे वफ़ा की उम्मीद करते हैं,
दिल पर जख़्म देके , निशान शरीर पर ढूंढ़ते हैं।


बेवफाई नहीं प्यार चाइये

मुझे बेवफाई नहीं चाइये थी,
मुझे धोका नहीं चाइये था,
मुझे तो बस थोड़ा सा प्यार चाइये था!!


एक दौर था वो हर वक़्त मेरी फ़िक्र करने वाली ,
हर समय मेरे बारे मैं सोचने वाली कहाँ चली गई,
वफ़ा करने वाली, bewafai करके चली गयी !


पास है तो बेवफा

अभी पास है तो ठोकर मारकर bewafa बना देते हो
जब दूर हो जाएंगे, तो प्यार जाताओगे!


care karne se bhi bewafai milti hai

कितनी भी Care कर लो, Bewafai करने वाले बेवफा बन ही जाए हैं !


मैंने अपनी ज़िन्दगी के रस्ते बदल दिए हैं अब जो हमारे साथ खड़े हैं , वही हमारे साथ चलेंगे !


Bewafa wapis तो सिर्फ अपने काम के लिए

हमने ये सोचा वो वापिस आए हमारी मोहब्बत के लिए,
मगर वो बेवफा वापिस आए सिर्फ अपने काम के लिए!


कोमल, दयालु लगते थे जो हसीन लोग,
वास्ता पड़ा तो कठोर और पत्थर के निकले…


प्यार का अंजाम वफ़ा भी बेवफा बन गयी

कितनी हसरत थी प्यार को पाने की मगर इसके अंजाम का नहीं पता था
क्यूंकि ये प्यार वफा करने वाले को भी बेवफा बना देता है


रिश्ता तोड़ने का जवाब

दूरी और बेरुखी का जब उनसे जवाब माँगा गया ,
तो हमें Bewafa बना के हमसे रिश्ता तोड़ने का जवाब दिया ।


Bewafa बना दिया और भूल गए

ये मैं अक्सर सोचता हूँ की वो हमें कैसे भूल गए होंगे,
शायद हमें बेवफा मान कर, भूलने कीवजह मिल गयी होगी ।


खुद का ध्यान रखना | खुद का ध्यान

अब मैंने खुद का धयान रखना शुरू कर दिया है,
क्योंकि धयान रखने वाले अब बदल चुके है।


दिल Bewafa ko dhundhein – Bewafa Shayari

दिल ढूढें जिसे जो बेवफा है
जो किसी और का हो गया, बेवफाई करके हमें रोता हुआ छोड़ गया
… फिर भी ये दिल उसको ही ढूंढ़ता है, ये कैसी चाहत हे यारों…? जो बेवफा हे…


वास्तव मैं बेवफा
कोमल हसीन, प्यारे लगते थे जो हमको , वास्तव मैं वो कठोर और बेवफा निकले
नसीब मेरा कु मुजसे खफा हो जाता है, अपना जिस्को भी मनो बेवफा हो जात है, क्यु ना हो शिकायत मेरी नजारो ।।।


Bewafa shayari in hindi for love

हम गम, तन्हाई और जुदाई से मरते रहे
और वो बेवफा बनके चुप बैठे रहे ।


Bewafa shayari in hindi for Girlfriend | Bewafai shayari for whatsapp


दिल लगा के दिल तोड़ गयी वो,
प्यार का पाठ पढ़ा कर भूल गयी हमें,
ओ बेवफा,अब किसी से भी दिल मत लगाना ,
क्यूंकि वो भी मेरी तरह चैन की सांस ना ले पाएगी!!


उसने Bewafai में सभी हदें पार कर दी,
मोहब्बत का नाटक हमारे साथ और वफ़ा किसी गैर के साथ।


Bewafai Shayari


Sad Bewafa Shayari

आखिर उसने किसी गैर के दिल की सुनी,
मेरी हक़ीकत जाने बिना बेवफा बना दिया हमें,
मगर याद करना मेरी वफ़ाएं याद कर पछताओगे और रोओगे!!


मेरी हक़ीकत जाने बिना वो मुझसे जुदा हो गयी,
मेरी सुनाने की जब बारी आयी तो उसने अपना फैसला बता दिया!!


जैसे बदले मौसम वैसे बदली तुम,
नयी हसरतों के सेज पर नया फूल सजा लिए तुमने,
बजाए बेवफा तुम जिसका मुझे दर था..!!


मेरी प्यार की कहांनी तो उसने ख़तम करदी,
मुझे मेरी बर्बादी का कोई गम नहीं है ,
हशर यही तो होता है दीवानो का!!


Bewafa Shayari in Hindi for Love


दुनिया को दिखाने के लिए हस्ता हूँ,मगर अंदर ही अंदर रोता हूँ …
किसी को अपना दर्द नहीं दिखता कहीं लोग प्यार करना न भूल जाएं


Bewafa Shayari for Love

टूटे हुए प्याले में जाम नहीं आता इश्क में मरीज को आराम नहीं आता ये बेवफा दिल तोड़ने से पहले ये सोच तो लिया होता के टुटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता!


तेरी बेवफाई के बारे मैं बहु सुना था ,
फिरभी तेरे से दिल लगा बैठे,
भूल हमारी थी, उससे चाहत लगा बैठे,
जो बेवफा से वफ़ा की उम्मीद कर बैठे!!


तेरी बेरुखी देख कर दिल करता है तुजसे बहुत दूर चला जाऊँ,
आसमान के इन तारो मे कही खो जाऊँ,
मेरे प्यार की कदर नहीं है उस पत्थर दिल को ,
हमारी वफाओं को याद करके रोयेगी!!


Dard Bhari Bewafa Shayari

मेरी आँखों से बहने वाले न थमने वाले ये आँसूं ,
बार बार तुमसे तुम्हारी बेवफाई का कारण पूछ रहे हैं।

बेवफाई शायरी


जिसको सबसे ज्यादा चाहा था, उसने ही बेवफाई की,
नादान थी वो कुछ भी न समझी, प्यार को बदनाम किया,
खुद बना के खुद ही उजाड़ दिया हमारा आशियाना..!!


उसको बेवफा कैसे कह दूँ, जिसको चुना था हमने,
दिल उदास हो जाता है उसकी बेवफाई पे जो प्यार था अपना और पसंद थी अपनी !!


उस bewafa ने मेरे प्यार के बदले मुझे दुःख ही दिया बस !
तुझे दुःख दूं ये कभी नहीं होगा क्यूंकि हमें बेवफा लोगों से भी नफरत नहीं आती है !!
उनसे वफ़ा के बदले हमें कुछ न मिला
मगर उनकी बेवफाई ने हमें ग़मों का समंदर मिल गया !!


Bewafa Shayari in Hindi for Love

मुझसे मेरी वफ़ा का सबूत मांग रहा है !
खुद बेवफ़ा हो के मुझसे वफ़ा मांग रहा है !!


bewafa shayari sad

हम से कहते थे की तुम बेवफा हो,
मगर हम जानते थे हम पर बेवफाई का इलज़ाम लगा के अपनी बेवफाई को छुपा रहे हैं!!


Bewafa Shayari in Hinglish


Jb aapako bina galati ki saja mile,
to use baiwafai kaha jaata hai.


usne baiwafai mein sabhee haden paar kar dee,
mohabbat ka naatak hamaare saath aur vafa kisee gair ke saath.


Mohabbat main Aisa kyon hota hai,
bewafai mein vo rote hain aur vafa mein ham roye hain .


sab kuchh hote hue bhee is dil ka dard nahin jaata,
kyoonki kismat ne hamen baiwafai bana diya.


meree aankhon se bahane vaale na thamane vaale ye aansoon ,
baar baar tumase tumhaaree baiwafai ka kaaran poochh rahe hain.


duniya vaalon ka bhee ajeeb dastoor hai bevaphaee mehaboob se milatee hai ,
aur bevapha mohabbat ban jaatee hai.


ham ishq mein vafa krate krate behaal ho gae,
aur vo bevaphaee karake bhee khushahaal ho gaye .


jisse humne baiwafai paayee,
vo hamase vafa kee ummeed karate hain,
dil par jakhm deke , nishaan shareer par dhoondhate hain.


mujhe bevaphaee nahin chaiye thee,
mujhe dekha nahin chaiye tha
mujhe to bas thoda sa pyaar chaiye tha.


ek daur tha vo har vaqt meree fikr karane vaalee ,
har samay mere baare main sochane vaalee kahaan chalee gaee,
vafa karane vaalee , baiwafai karake chalee gayee !


abhi paas hai to thokar maarate ho,
jab door ho jaeinge , to pyaar jaataoge !


kitni bhi Care kar lo, Bewafayi karane vaale Bewafa ban hee jae hain !


mainne apni zindagi ke raste badal die hain ab jo hamaare sah khade hain , vahee hamaare sah chalenge !


hamane se socha vo vaapis aae hamare paar ke lie,
magar vo beWafa vaapis aae sirf apne kaam ke lie.


Naazuk lagate the jo haseen log, vaasta pada to patthar ke nikale…


kitni hasarat thee pyaar ko paane kee magar iske Nateejon ka nahin pata tha
kyoonki ye pyaar vapha karane vaale ko bhee Bewafa banadeta hai

rishta todne ka javaab
dooree aur berukhee ka jab unase jawaab maanga gaya ,
to hamein Bewafa bana ke hamase rishta todane ka javaab diya.


baiwafa bana diya aur bhool gaye
ye main aksar sochata hoon kee vo hamein kaise bhool gae honge,
shaayad hamein bevapha maan kar, bhoolane kee vajah mil gayee hoge .


khud ka dhyaan rakhana | khud ka dhyaan
ab mainne khud ka dhayaan rakhana shuroo kar diya hai, kyonki dhayaan rakhane waale ab badal chuke hai.


dil dhoodhein jise jo beWafa hai
jo kisee aur ka ho gaya, bevaphaee karake hamen rota hua chhod gaya
… phir bhee ye dil usako hee dhoondhata hai, ye kaisee chaahat he yaaron…? jo bevapha he…


vaastav main bevapha
komal haseen, pyaare lagate the jo hamko , vaastav main vo kathor aur bevapha nikale
naseeb mera ku mujase khapha ho jaata hai, apna jisko bhee mano bevapha ho jaat hai, kyu na ho shikaayat meree najaaro …


ham gam, tanhai aur judai se marte rahe
aur vo bevapha baanke chup baithe rahe .


bewafa shayari in hinglish for Girlfriend


dil laga ke dil tod gayee vo,
pyaar ka paath padha kar bhool gayee hamen,
o bevapha,ab kisee se bhee dil mat lagaana ,
kyoonki vo bhee meree tarah chain kee saans na le paegee!!


aakhir usane kisee gair ke dil kee sunee,
meree haqeekat jaane bina bevapha bana diya hamen,
magar yaad karana meree vafaein yaad kar pachhataoge aur rooge!!


meree haqikat jaane bina vo mujhse juda ho gayee,
meree sunaane kee jab bari aayi to usne apna faisala bata diya!!


jaise badale mausam vaise badlee tum,
nayee hasaraton ke sej par naya phool saja lie tumane,
bangayee bevapha tum jisaka mujhe dar tha..!!


meree pyaar kee kahani to usne khatam karadi,
mujhe meree barbaadi ka कोई gaam nahin hai ,
hashar yahee to hota hai deevaano ka!!


teree bevaphaee ke baare main bahu suna tha ,
फिर bhi tere se dil laga baithe,
bhool hamaaree thee, usase chaahat laga baithe,
jo bevapha se vafa kee ummeed kar baithe!!


teri berukhi dekh kar dil karata hai tujase bahut door chala jaoon,
aasamaan ke in taaro me kahee kho jaoon,
mere pyaar kee kadar nahin hai us patthar dil ko ,
hamaaree vaphaon ko yaad karake royegee!!


dard bhari baiwaf shayari
jisako sabase jyaada chaaha tha, usane hee bevaphaee kee,
naadaan thee vo kuchh bhee na samajhee, pyaar ko badanaam kiya,
khud bana ke khud hee ujaad diya hamaara aashiyaana..!!


usko bevapha kaise kah doon, jisako chuna tha hamane,
dil udaas ho jaata hai usakee bevaphaee pe jo pyaar tha apana aur pasand thee apanee !!


us baiwaf ne mere pyaar ke badale mujhe duhkh hee diya bas !
tujhe duhkh doon ye kabhee nahin hoga kyoonki hamen bevapha logon se bhee napharat nahin aatee hai !!


Unse vafa ke badale hamen kuchh na mila
magar unakee Bewafai ne hamein gamon ka samandar mil gaya !!


mujhse meree vafa ka saboot maang raha hai !
khud bevafa ho ke mujhase vafa maang raha hai !!


ham se kahate the kee tum Bewfa ho,
magar ham jaanate the ham par bewafayi ka ilazaam laga ke apanee bevaphaee ko chhupa rahe hain!!


duniya ko dikhane ke liye hasta hoon, magar andar hi andar rota hoon …
kisee ko apana dard nahin dikhata kahin log pyaar karana na bhool jayein


toote hue pyaale mein jaam nahin aata ishk mein mareej ko aaraam nahin aata ye bevapha dil todane se pahale ye soch to liya hota ke tuta hua dil kisee ke kaam nahin aata!